Jagbani: ਗਿੱਦੜ ਪਿੰਡੀ ਨੇੜੇ ਧੁੱਸੀ ਬੰਨ੍ਹ 'ਚ ਪਿਆ ਪਾੜ, ਦੇਖੋ ਤਸਵੀਰਾਂ

Published on: Monday, August 19, 2019

ਗਿੱਦੜ ਪਿੰਡੀ ਨੇੜੇ ਧੁੱਸੀ ਬੰਨ੍ਹ 'ਚ ਪਿਆ ਪਾੜ, ਦੇਖੋ ਤਸਵੀਰਾਂ

#punjabflood #satlujflood #
ਗਿੱਦੜ ਪਿੰਡੀ ਨੇੜੇ ਧੁੱਸੀ ਬੰਨ੍ਹ 'ਚ ਪਿਆ ਪਾੜ, ਦੇਖੋ ਤਸਵੀਰਾਂ
Official website: 
https://jagbani.punjabkesari.in/

Like us on Facebook 
fb.com/JagBaniOnline/

Follow us on Twitter 
https://twitter.com/JagbaniOnline

Follow us on Instagram 
https://www.instagram.com/jagbanionline/

Source: https://youtu.be/CA2xMj7pP1Q

Show more

Comments

  • india khule sher

    india khule sher

     2 weeks ago

    deakh lao digital india nu ban nu rokan lai ki kuj kita ja rya

  • Balwinder Bhagat

    Balwinder Bhagat

     3 weeks ago

    J Sare km asi hi krne a ta sarkaar kis vaste bnai a asi. Dikhda nai pia sarkar nu kuch

  • Chanansingh Chanan

    Chanansingh Chanan

     3 weeks ago

    Bhoutbhadi

  • Fernandes Brun

    Fernandes Brun

     3 weeks ago

    Jesus please halp him, we r all your child please save, amen praise the lord

  • Tanish Sahota

    Tanish Sahota

     3 weeks ago

    God bless u 😭😭rabb g plz kuch ta help krdo 🙏🙏🙏dhak k bot mood off hunda aaa plz god help me plz plz plz plz🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏😭😭

  • Harmail Singh

    Harmail Singh

     4 weeks ago

    Gadu kismat har gave kissan de ta koi sarkar nahi koj kar sakde weheguru ji mehar karo thouda ha assra hai weheguru ji hamat day Punjab the loka nu

  • Charan Kaur

    Charan Kaur

     1 months ago

    Waheguru ji

  • S P Singh

    S P Singh

     1 months ago

    वीर कदे बोलदे हो कि असि पानी नही देना ऐ साडा है पंजाब दा पानी क्यो देइये हरियाणे नु क्यो देईए राजस्थान नु । वीर पानी कुदरत दी देन है सब दी सांझी है । पल विच प्रलय हो जांदा है तीनो राज्य हरयाणा ,पंजाब,राजस्थान नु वाटर कॉरिडोर बनाना चाहिदा की पानी अगर ज्यादा आ जाए ता बफर होने चाहिदे पर तुसी ता मन्दे ही नही पानी ता पंजाब दा । कई खड़े ने की भाखड़ा डेम दे गेट खुले ता असि डुब गए भाखड़ा डेम ने डुबो ता । वीर भाखड़ा ता थोनु बचा लैंदा हर वारी । जदो कुल्लू ओर चम्बे च बदल फटडा सारा पानी ब्यास ते सतलुज ही आऊँगा । 6 घण्टे विच विच फ़्लैश फ्लड दा पानी दसुआ मुकेरियां जलन्दर, फगवाड़ा ludhyana नु ले डूब गा । ओथे तलवाड़ा डैम बचा लैंदा । सतलुज दे पानी नु नंगल ते भाखड़ा ना होण ता नंगल रोपड़आनंदपुर साहिब,कुराली चमकौर साहिब सब दुब जान । अप्रैल महीने डैम दा लेवल बिल्कुल निचले स्तर हुँदा है बर्फ पिघली स्टार्ट हुन्दी है उस टाइम डैम उस पानी नु स्टोर करदा है उस टाइम सानू सिर्फ पीन वाला पानी ही चाहिदा हुँदा है फसल कटाई दा टाइम हुँदा है । डैम ना होवे ता आसी उस टाइम भी खजल ही होवागे फेर जीरी लग जांदी पानी दी जरूरत भी हुन्दी उस टाइम डैम दा लेवल कोई बहुत ज्यादा नही हुँदा 1200या 1300 ही हुँदा फूल पानी दित्ता चड्या जांदा । फेर बरसात शुरू हो जांदी डेम दा लेवल रोज 5तो 7 फ़ीट बढ़ जांदा अगर उस टाइम ओ पानी डायरेक्ट मैदानी एरिया च आ जावे ता फसल बर्बाद पर डैम ही रोकड़ा उस पानी नु जदो बदल फ़्तदे ते थोड़े समय च ज्यादा पानी उस टाइम लेवल भी बरसात करके 1600 या 1650 ते हुँदा ते रक दम पिछ्यो पानी आएगा ता लेवल ता सीधा ही 15 फुट तक बढेगा फेर गेट खोलने पेंदे ने । जानबूझकर कोई गेट नही खोलदा ।
    दूसरी तरफ जदो गेट खोलदे है मतलब बरसात ज्यादा है ओर बरसात सारे इलाके च ही हुन्दी है सोलन ,कसौली दी पहाड़िया दा पानी घगर नु उफान ते लया दिंदा है और किस्मत कदे ओर हरयाणे वल टूट जांदी है ते कदे पंजाब वल पर tutdi पटियाले तो बाद ही है । मूनक पंजाब ते फतेहाबाद हरयाणे दे किसान डूब जांदे ने ।
    पंजाब दे किसान वीर इस बारी बहुत नुकसान होया सहानुभूति है सानू मुआवजे ता थोनु भी पता है खर्चा ही मसे वापिस आंदा है ।
    इस करके विनीति है कि प्रकृति दिया चीजा सब दिया सांजिया ने । इस गल नु छड़ दो की पानी साडा असि नही देना हरियाणे नु ते राजस्थान नु ,साडा ता शरीर नी होया जेड़ा एना पाल पोस के रख्या ।
    हुन मुद्दे दी गल हिंदी च लिकदा
    जितनी भी बड़ी नहरे है वो 1948 जब ये डैम बने तब की है उसके बाद कोई बड़ी नहर नही बनी । जो पानी बाद जाता है सतलुज दरिया से होता हुआ पंजाब की सींचता हुआ हरिके जा के इंदिरा गांधी नहर में बाकी पाकिस्तान में । रोपड़ से सतलुज दरिया का कभी कुछ किया प्रकृतिक था बना बनाया मिल गया वैसा का वैसा है है उसे गहरा करते किनारे बनाते प्रॉपर उस पर कभी कुछ नही हुआ जब ज्यादा पानी आएगा तो दरिया तो लोगो के खेतों में जाएगा ही । घगर नदी बानी बनाई मिल गई क्या किया उस परकुच नही कहि कहि तो 100 फ़ीट से भी कम चौड़ाई है को देखेगा जब पहाड़ का पानी तो ले जाती है जब बरसात चंडीगढ़ ओर अम्बाला में भी होती है तब वो भी कितना पानी ले के जाए पटियाला तक पूरी छोड़ो हैओ 200 फ़ीट चौड़ाई है आगे कम हो जाती है तो उफान तो आएगा । सरकार और हम खुद लिमदार है क्योकि ठीकरा फोड़ना जानते है कि उसकी वजह से हुआ समाधान क्या है और कैसे होगा हम नही सोचते ना ही सरकारें ।
    बाकी इस बार की बरसात को देखकर लग गया कि हम डरते है कि पानी 230 फ़ीट नीचे चला गया क्या होगा । कुदरत 10 मिनट में बस करवा देती है ।
    बाकी पानी को बचाना ही चाहिए ।
    आपस में एक दूसरे को कहने से कुछ नही होगा सरकर को डंडा देना होगा तब बात बनेगी ।

  • sun shine

    sun shine

     1 months ago

    Parsashan ta bass vote lei k avadea rotia banoda .jad log khud sab kuj Kar sakde ta sarkar banon da ke faida

  • Surjeet Rai

    Surjeet Rai

     1 months ago

    Yesu save the pipal

  • Gora Rajan

    Gora Rajan

     1 months ago

    ਕੁਤੀ.ਸਰਕਾਰ.ਨੂੰ.ਹੋਰ.ਵੋਟਾ.ਪਾਓ.

  • Rajinder Kumar

    Rajinder Kumar

     1 months ago

    Baba g mehar kro Aapne bachya te🙏🙏

  • Rajinder Kumar

    Rajinder Kumar

     1 months ago

    Sarkar nu sharm aani chaidi aa

  • Gurvel Sandhu

    Gurvel Sandhu

     1 months ago

    Mshin vala te a lagda jeeve ban bnana nhi choda

  • Muhammad Aslam Ch

    Muhammad Aslam Ch

     1 months ago

    Ravi no China puchda , ke hal eh Sutlaj da.

  • unity unity

    unity unity

     1 months ago

    Punjabiyo khalsa aid de ravi singh nu punjab da cm banayo jekar punjab save rakhna chaunde ho ta. Nhi ta Punjab khatm.

  • Sukha Nahar

    Sukha Nahar

     1 months ago

    ਅੱਗੇ ਤੋਂ ਕੋਈ ਵੀ ਵੋਟਾਂ ਮੰਗਣ ਆਉਂਦਾ ਤਾਂ ਛਿੱਤਰ ਮਾਰਿਆ ਵੀਰੋ

  • Amarjeetsingh Bajwa

    Amarjeetsingh Bajwa

     1 months ago

    Punjabio sidhu sahib nu CM bnao sab zindabad

  • Ravinder Singh

    Ravinder Singh

     1 months ago

    ਵਾਹਿਗੁਰੂ ਜੀ ਬਕਸ਼ ਦੋ ਸਾਡੇ ਪਾਪਾ ਨੂੰ ਮਾਫ਼ ਕਰਦੋ ਜਾ ਮੈ ਮਨਦਾ ਹਾ ਕੇ ਅਸੀਂ 🌿🍃ਕੁਦਰਤ ਦਾ ਬਹੁਤ ਨੁਕਸਾਨ ਕਰਦੇ ਹਾਂ ਬਹੁਤ ਰੁੱਖਾਂ ਨੂੰ ਕੱਟ ਦਿੱਤਾ ਏ ਪਰ ਤੁਸੀਂ ਸਾਮੰਤ ਬਖਸ਼ੋ ਵਾਹਿਗੁਰੂ ਜੀ ਤੁਸੀਂ ਮਾਫ ਕਰਦੋ

  • Pooja chauhan

    Pooja chauhan

     1 months ago

    Waheguru ji Mehar Kro🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏